PAK के पुर्व कप्तान कोहली का सपोर्ट किया है 70 शतक ठोके तकनीक पर सवाल नहीं

PAK के पुर्व कप्तान कोहली का सपोर्ट किया है 70 शतक ठोके तकनीक पर सवाल नहीं

- in Sports
0
Comments Off on PAK के पुर्व कप्तान कोहली का सपोर्ट किया है 70 शतक ठोके तकनीक पर सवाल नहीं
CHRISTCHURCH, NEW ZEALAND - FEBRUARY 29: Virat Kohli of India looks dejected after being dismissed for 3 runs by Tim Southee of New Zealand during day one of the Second Test match between New Zealand and India at Hagley Oval on February 29, 2020 in Christchurch, New Zealand. (Photo by Kai Schwoerer/Getty Images)

इंजमाम ने भरोसा जताया है कि कोहली मजबूती से वापसी करेंगे. कोहली की कप्तानी में भारत को न्यूजीलैंड के हाथों दो मैचों की टेस्ट सीरीज में 0-2 से हार का सामना करना पड़ा. इस सीरीज में भारत के बेहतरीन बल्लेबाज कोहली ने 2, 19, 3, 14 रनों की पारियां खेलीं.

इंजमाम ने अपने यूटूयब चैनल पर कहा, ‘कई लोग कोहली की तकनीक और कई तरह की बातें कर रहे हैं. मैं इन सभी बातों से हैरान हूं. उन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 70 शतक जमाए हैं, आप कैसे उनकी तकनीक पर सवाल उठा सकते हैं.’

इंजमाम ने कहा, ‘एक क्रिकेटर के तौर पर मैं कह सकता हूं कि खिलाड़ियों के करियर में ऐसा दौर आता है जब वह काफी प्रयासों के बाद भी रन नहीं कर पाते. मोहम्मद यूसुफ की बैकलिफ्ट ऊंची थी. उनका बल्ला गली की दिशा से नीचे आता था.’

इंजमाम ने कहा, ‘जब उनकी फॉर्म खराब हुई तो लोगों ने उनकी तकनीक को लेकर बातें करना शुरू कर दीं. जब वो मेरे पास आए तो मैंने कहा कि आपने इस तकनीक से इतने रन कैसे किए.’

दाएं हाथ के पूर्व बल्लेबाज ने कहा, ‘टीम अच्छा नहीं कर रही है. अगर कोहली फेल होते हैं तो, अन्य खिलाड़ियों का क्या? यह खेल का हिस्सा है और इसे मंजूर किया जाना चाहिए.’

इंजमाम ने कहा कि कोहली को अपनी तकनीक में किसी तरह का बदलाव करने की जरूरत नहीं है.

इंजमाम ने कहा, ‘किसी बात की चिंता करने की जरूरत नहीं है. यह दौर भी चला जाएगा. मैं तकनीक के बारे में बात भी करना नहीं चाहता. विराट को अपनी तकनीक नहीं बदलनी चाहिए. वह मजबूत मानसिकता के खिलाड़ी हैं. उन्हें परेशान होने की जरूरत नहीं है. वह मजबूती से वापसी करेंगे.’

 

 

You may also like

मोदी सरकार देश में इस वक्त कुल 28 सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों (पीएसयू) में हिस्सेदारी बेचने में जुटी हैमोदी सरकार देश में इस वक्त कुल 28 सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों (पीएसयू) में हिस्सेदारी बेचने में जुटी हैमोदी सरकार देश में इस वक्त कुल 28 सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों (पीएसयू) में हिस्सेदारी बेचने में जुटी हैमोदी सरकार देश में इस वक्त कुल 28 सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों (पीएसयू) में हिस्सेदारी बेचने में जुटी हैमोदी सरकार देश में इस वक्त कुल 28 सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों (पीएसयू) में हिस्सेदारी बेचने में जुटी हैमोदी सरकार देश में इस वक्त कुल 28 सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों (पीएसयू) में हिस्सेदारी बेचने में जुटी हैमोदी सरकार देश में इस वक्त कुल 28 सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों (पीएसयू) में हिस्सेदारी बेचने में जुटी हैमोदी सरकार देश में इस वक्त कुल 28 सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों (पीएसयू) में हिस्सेदारी बेचने में जुटी हैमोदी सरकार देश में इस वक्त कुल 28 सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों (पीएसयू) में हिस्सेदारी बेचने में जुटी हैमोदी सरकार देश में इस वक्त कुल 28 सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों (पीएसयू) में हिस्सेदारी बेचने में जुटी हैमोदी सरकार देश में इस वक्त कुल 28 सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों (पीएसयू) में हिस्सेदारी बेचने में जुटी हैमोदी सरकार देश में इस वक्त कुल 28 सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों (पीएसयू) में हिस्सेदारी बेचने में जुटी हैमोदी सरकार देश में इस वक्त कुल 28 सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों (पीएसयू) में हिस्सेदारी बेचने में जुटी हैमोदी सरकार देश में इस वक्त कुल 28 सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों (पीएसयू) में हिस्सेदारी बेचने में जुटी हैमोदी सरकार देश में इस वक्त कुल 28 सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों (पीएसयू) में हिस्सेदारी बेचने में जुटी हैमोदी सरकार देश में इस वक्त कुल 28 सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों (पीएसयू) में हिस्सेदारी बेचने में जुटी है

Disinvestment मोदी सरकार कुल 28 सार्वजनिक क्षेत्र की